The Fire Within

There is this Fire within That refuses to go down...

Soldier

Terrorists captured a soldier once, tortured him to death. They told him that terrorists are real brave as they don't fear death. Soldier replied in few lines before dying. Here is what he said...

मादर ए वतन

महाराणा प्रताप जयंती पर अग्निवीर की तुच्छ भेंट. हिन्दुस्तान के हजार साल के स्वतंत्रता संग्राम के कुछ न मिटाए जा सकने वाले पन्ने इस छोटी सी कविता में. पढ़ें और प्रचार करें!

माँ

मेरी भी नहीं तेरी भी नहीं वो तो होती सबकी सांझी माँ ना हिंदू की ना मुस्लिम की माँ तो बस एक होती है माँ

दुनिया और मैं

एक बच्चे की मासूम प्रार्थना! एक योगी की साधना यही प्रार्थना है!

बचपन और जवानी

जवानी आयी और बचपन विदा हो गया! पर जाते जाते बचपन कुछ कह गया! बचपन की जवानी को सीख, इस कविता में.

तुलादान

श्रीकृष्ण और उनकी पत्नी रुक्मिणी के वैवाहिक जीवन की एक घटना का काव्य रूपांतरण। श्रीकृष्ण जन्माष्टमी के पावन पर्व पर अग्निवीर की यह भेंट!

महाराणा प्रताप

महाराणा प्रताप के जीवन की कुछ घटनाएं इस कविता में हैं। भारत माँ के कुछ दमदार पुत्र ऐसे हैं जिन्होंने विपत्ति के समय में भी दुनिया में इस देश का नाम गुंजाये रखा। महाराणा प्रताप ऐसा ही एक नाम है।

भाई तू क्यों नहीं आया?

उसने भाई को पुकारा होगा. पर कोई नहीं आया. समाज में दुशासन तो सब हैं, कृष्ण कौन बनेगा?

मातृभूमि

To all those who love their motherland. A poem on the occasion of Independence Day.