उसने इस्लाम के संस्थापक पैगम्बर मुहम्मद को अपमानित किया –

अ) उसके मुताबिक पैगम्बर एक दैत्य थे।

दुनिया के सामने वह दिखावा करता है कि वो एक सच्चा मुसलमान और जन्नत दिलानेवाले एकमात्र फ़िरके का नुमाइन्दा है लेकिन पैगम्बर के लिए उसकी नफरत भी साफ झलकती है। ज़ाकिर नाइक का दावा है कि हिन्दू पुस्तक भविष्य पुराण में वर्णित महमदा नामक पात्र जो कि त्रिपुरासुर दैत्य का अवतार माना गया है, जिसे ‘धूर्त’ और ‘पिशाच’ (भूत) कहा गया है – कोई और नहीं बल्कि पैगंबर मुहम्मद ही हैं।

इस झूठ को उसने लगातार कई महिनों तक प्रचारित किया और इस तरह हिन्दू और मुसलमान दोनों को ही मूर्ख बनाने की कोशिश की। लेकिन जल्द ही अग्निवीर ने उसकी बदनीयत को पहचानकर पैगम्बर को बदनाम करने की उसकी दुष्ट कोशिश का मुंह तोड़ जवाब दिया। अग्निवीर ने यह स्थापित किया कि भविष्य पुराण में वर्णित महमदा – पैगम्बर मुहम्मद नहीं है। कृपया देखें – http://agniveer.com/prophet-puran/. अग्निवीर ने मुस्लिमों को भी चेताया है – ज़ाकिर नाइक आज इस्लाम का सबसे बड़ा दुश्मन है और उसे रोका जाना चाहिए।

ब) वह यज़ीद की तारीफ करता है और उसके लिए प्रार्थना करता है – यह जानते हुए भी कि करबला की लड़ाई में पैगम्बर के नाती के कतल के लिए यज़ीद ही जिम्मेदार था और उसके बाद हुए कत्लेआम – जिसमें हजारों जानें गईं और हजारों बलात्कार हुए – का कारण भी यज़ीद ही था। देखें –https://www.youtube.com/watch?v=1mMQbR_48IU.

क) उसके द्वारा संचालित पीस टीवी के विद्वान लोगों को पैगम्बर के जन्मदिवस समारोह पर हमले करने के लिए उकसाते हैं।

पीस टीवी के प्रमुख विद्वान इसरार अहमद का बयान –

“उन लोगों पर जिस्मानी और ज़बानी हमले करो जो मिलाद उन नबी – पैगम्बर मुहम्मद (सल्ल.) की सालगिरह मनाते हैं, सच्चे मुसलमान केवल वही होंगे जो पैगम्बर की सालगिरह के जश्न के खिलाफ़ जिहाद करेंगे।” देखें – https://www.youtube.com/watch?v=aiOlUPicjb0.

इससे पैगम्बर मुहम्मद के लिए उसकी नफरत उजागर होती है, परन्तु वह यहीं पर नहीं रूकता बल्कि मुसलमानों को खुदाई कानून का डर दिखाकर धमकाता भी है।

मुसलमानों और इस्लाम छोड़ चुके लोगों के लिए उसकी नफरत –

उसके मुताबिक कोई भी मुस्लिम जो इस्लाम से बाहर निकलने के बाद नए धर्म का प्रचार करता है, उसे शरिया के अनुसार मार डालना चाहिए। स्वधर्म (इस्लाम) त्यागने को वह देशद्रोह के बराबर कहता है। लेकिन जल्दबाजी में वो ये भूल गया कि वह खुद भी लोगों का धर्म परिवर्तन कर, उन्हें अपने वहाबी मत में लेकर आता है। इसलिए इस तरह हजारों लोगों द्वारा देशद्रोह किये जाने का जिम्मेदार वह स्वयं है! दिलचस्प बात यह भी है कि कुछ पीढ़ियों पहले उसके पूर्वजों में से भी किसी ने स्वधर्म त्यागा होगा लेकिन उन्होंने अपना उपनाम बरकरार रखा, इसी परिणाम है कि वह – ज़ाकिर नाइक है! देखें –https://www.youtube.com/watch?v=1d4J6MGhgkU.

दुनिया के तमाम गैर-मुस्लिमों के लिए उसकी नफरत –

अ) उसका कहना है कि सभी गैर-मुस्लिम जहन्नुम जाएंगे चाहे वे मदर टेरेसा जैसे उदारचेता ही क्यों न हों। लेकिन उसके मुताबिक आतंकी ओसामा बिन लादेन के लिए जन्नत की सीट पक्की है! देखें – https://www.youtube.com/watch?v=JPRyMgEtMXM.

ब) उसकी वहाबी रियासत में कोई भी गैर-मुस्लिम अपने धर्म का प्रचार नहीं कर सकता, इसलिए उसकी सीधी-सी मांग है – तुम्हारे शासन में मेरे इस नियम का मुझे प्रचार करने दिया जाए कि जब भी मैं सत्ता प्राप्त कर लूँगा, तुम्हें तुम्हारे धर्म का प्रचार नहीं करने दूंगा! अपने इस तर्क (?) की बराबरी वह अंकगणित के समीकरण २+२ = ४ से करता है, क्यों, ये तो ईश्वर ही जानें!  देखें – https://www.youtube.com/watch?v=6jYUL7eBdHg.

क) गैर-मुस्लिम मक्का और मदीना में प्रवेश नहीं पा सकते, इसके लिए पहले उन्हें इस्लाम कबूलना होगा।

४) वह सभी स्त्रियों – खासतौर से गैर-मुस्लिम स्त्रियों को गाली देता है और उनसे नफरत करता है –

ज़ाकिर नाइक के अनुसार स्त्रियां बेवकूफ, शातिर, उपद्रवी, धूर्त और अनिष्ट का मूल हैं। उन्हें पीटा जाना चाहिए। एक व्यक्ति चार स्त्रियों से शादी कर सकता है, स्त्रियां रखैल या सेक्स के लिए गुलाम भी बनाई जा सकती हैं और इस सब के बाद भी उसका कहना है कि अधिकांश स्त्रियां जहन्नुम में जाएंगी। इस दुष्ट उन्मादी को यह अहसास नहीं है कि ऐसा कह कर वह न सिर्फ सारी स्त्रीजाति का ही अपमान कर रहा है बल्कि उसे इस दुनिया में लाने वाली उसकी मां को भी गाली दे रहा है!  देखें – https://www.youtube.com/watch?v=4w2wTtJmF40.

५) अन्य धर्मों के भगवानों और देवताओं से वह घृणा करता है। भगवान गणेश, भगवान शिव और जीसस को वह अपमानित कर चुका है और उनकी प्रमाणिकता पर भी सवाल खड़े कर चुका है। अन्य धर्मों के उत्सवों पर वह उनके देवताओं को अपमानित करनेवाली तस्वीरें पोस्ट करता है।

६) उसके पीस टीवी के विद्वान मुस्लिमों को अहमदियों/कादियानियों को मारने के लिए उकसाते हैं।

पीस टीवी का प्रमुख विद्वान इसरार अहमद कहता है –

अहमदियों/कादियानियों को कतल करो क्योंकि वे अब वफादार नहीं रहे, धर्म से गिर चुके इन लोगों को मार दो। (वीड़िओ में 1:15 से सुना गया)।

देखें – https://www.youtube.com/watch?v=BDV48iL99fs&feature=related.

७) राष्ट्रगान वन्दे मातरम् का अपमान –

उसका कहना है कि मुस्लिम अगर वन्दे मातरम् गाएंगे तो जहन्नुम में जाएंगे।

८) उसके पीस टीवी के विद्वान भारत पर हमले की सजीश रच रहे हैं (गजवा ए हिन्द) –

पीस टीवी का प्रमुख वक्ता इसरार अहमद कहता है – पाकिस्तान और अफगानिस्तान से गाजियों के लश्कर मिलकर हिंदुस्तान में खिलाफत लाने के लिए जल्द ही हमले करेंगे। यह खुदाई बात है और होकर रहेगी। देखें –  https://www.youtube.com/watch?v=Qv_mHgNVrTo.

९) पीस टीवी के विद्वान गैर-मुस्लिमों को आतंकित करते हुए कहते हैं – या तो इस्लाम में आ जाओ या मारे जाओगे।

ज़ाकिर नाइक के पीस टीवी के प्रमुख विद्वान इसरार अहमद के अनुसार – “ इस्लामिक रियासत में गैर-मुस्लिमों के पास सिर्फ तीन ही विकल्प होते हैं – या तो वे इस्लाम कबूलें और मुसलमानों के बराबर सामाजिक और धार्मिक अधिकार प्राप्त करें या फ़िर वे निचले और दुय्यम दर्जे के नागरिक बने रहें जिन्हें कोई अधिकार प्राप्त नहीं होंगे या फ़िर हम उनसे तलवार से युद्ध करेंगे।”

(वीडियो में 1:38 से 3:50 तक देखें)।

देखें –  https://www.youtube.com/watch?v=umsESfsgoKw.

१०) पीस टीवी के लोग और उनके संगठन का सम्बन्ध पाकिस्तानी ख़ुफ़िया एजेंसी आईएसआई से है –

पीस टीवी के विद्वान और ज़ाकिर नाइक के साथी इसरार अहमद द्वारा स्थापित तंजीम ए इस्लामी का सम्बन्ध पाकिस्तानी ख़ुफ़िया एजेंसी आईएसआई से है। आईएसआई भारत के खिलाफ़ युद्ध छेड़ने में और भारत में आतंकी गतिविधियों को अंजाम देने में सक्रिय रूप से शामिल रही है। आईएसआई के डायरेक्टर जनरल हामिद गुल पीस टीवी की तंजीम में भाषण देते हुए –  https://www.youtube.com/watch?v=b07vFUWS_cM.

ये वही हामिद गुल है, जिसने भारत की सिलीकॉन वैली – बैंगलोर में बम धमाकों की धमकी दी थी।

देखें – https://www.youtube.com/watch?v=XfIQ57VVC3c.

११) पीस टीवी के लोग और उनके संगठन के रिश्ते २६/११ के साजिशकर्ता और लश्कर ए तैयबा के सरगना हाफिज़ सईद के साथ हैं –

नीचे दिए गए वीडियो में सईद – तंजीम द्वारा बुलाई गई एक महफ़िल में बोल रहा है – https://www.youtube.com/watch?v=f99igJmJgCE.

ज़ाकिर नाइक और उसकी टोली कतई धार्मिक उपदेशक नहीं है बल्कि राष्ट्र विरोधी तत्वों का गिरोह है जो   विदेशी धन की आवक से भारत को तबाह करने के अपने एक सूत्री एजेंडे को अंजाम देने का काम कर रहे हैं। अपने खतरनाक मंसूबों को पूरा करने में वे इस्लाम का एक हथियार की तरह गलत इस्तेमाल कर रहे हैं। इसलिए हम ज़ाकिर नाइक को स्पष्ट रूप से आतंकी घोषित करते हैं। देखें –  http://agniveer.com/terrorist-naik/.

हमारे अनुसार जो भी आतंकी कारनामों के लिए प्रेरित करेगा चाहे परोक्ष या अपरोक्ष रूप से – वह स्वयं एक आतंकी है। इन्हीं लोगों के कारण फ्लोरिडा हमले होते हैं, पेरिस हमले होते हैं, २६/११, ९/११ होते हैं, आईएसआई पनपती है और इन से ही उत्तेजना प्राप्त कर के लोग स्वयं को मतान्ध और जिहादी बनाते हैं।

ज़ाकिर नाइक के पीस टीवी की समूची सच्चाई जानने के लिए पढ़ें – http://agniveer.com/society/zakir-naik/.

भारत को बचाने के लिए, मानवता को बचाने के लिए, विश्व को बचाने के लिए और इस्लाम को बचाने के लिए भी इसे अधिक से अधिक फैलाएं।

Original English article is available here: 11 REASONS WHY ZAKIR NAIK’S PEACE TV MUST BE BANNED WORLDWIDE

Disclaimer: By Quran and Hadiths, we do not refer to their original meanings. We refer to interpretations made by fanatics and terrorists to justify their kill and rape. We respect the original Quran, Hadiths and their creators. Our fight is against those who misinterpret them. For example, Mughals, ISIS, Al Qaeda, and every other person who justifies sex-slavery, rape of daughter-in-law and other heinous acts. For full disclaimer, visit site.

Facebook Comments

Liked the post? Make a contribution and help bring change.

Disclaimer: By Quran and Hadiths, we do not refer to their original meanings. We only refer to interpretations made by fanatics and terrorists to justify their kill and rape. We highly respect the original Quran, Hadiths and their creators. We also respect Muslim heroes like APJ Abdul Kalam who are our role models. Our fight is against those who misinterpret them and malign Islam by associating it with terrorism. For example, Mughals, ISIS, Al Qaeda, and every other person who justifies sex-slavery, rape of daughter-in-law and other heinous acts. For full disclaimer, visit "Please read this" in Top and Footer Menu.

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here